Header Ads

Health Tips: देसी घी और मिश्री एक साथ खाने से सेहत को मिलते हैं ये अद्भुत फायदे, इम्यूनिटी बढ़ाने में होता है मददगार

Health Tips: देसी घी और मिश्री का एक साथ सेवन करने से सेहत को कई तरह के लाभ मिलते हैं। देसी घी और मिश्री कई सारे पोषक तत्वों के गुणों से भरपूर होते है। इनका एक साथ सेवन करने से शरीर को दोगुने लाभ मिलते हैं। रोजाना देसी घी के साथ एक चम्मच मिश्री का सेवन करने से स्वास्थ्य से जुड़ी कई सारी समस्याएं दूर होती है। सर्दी-जुकाम से राहत पाने के लिए देसी घी के साथ मिश्री का सेवन करना फायदेमंद होता है। इसलिए रोजाना देसी घी के साथ एक चम्मच मिश्री का सेवन जरूर करना चाहिए। तो आइए जानते हैं देसी घी और मिश्री का एक साथ सेवन करने से सेहत को मिलने वाले लाभ के बारे में

देसी घी और मिश्री के फायदे

1. इम्यूनिटी बढ़ाने में फायदेमंद
इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए देसी घी और मिश्री का एक साथ सेवन करना बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। इसके लिए आप रोजाना सुबह में एक चम्मच देसी घी के साथ एक चम्मच मिश्री का सेवन करें। साथ ही ये शरीर को संक्रमण और बीमारियों से बचाने में मदद करता है।
यह भी पढ़े: मशरूम पाचन और स्किन संबंधित समस्याओं को दूर करने में होता है फायेदमंद, जानें इसके अन्य फायदे

2. सर्दी-जुकाम से राहत दिलाने में फायदेमंद
सर्दी-जुकाम से राहत पाने के लिए देसी घी और मिश्री का एक साथ सेवन करना बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। सर्दी-जुकाम होने पर आप एक चम्मच देसी घी में एक चम्मच मिश्री मिलाएं और फिर इसमें थोड़ा सा काली मिर्च का पाउडर डालें। इन तीनों चीजों को अच्छी तरह से मिलाकर हल्का गर्म करें और फिर खा लें। ऐसा दिनभर में दो से तीन बार करें।

3. शरीर को एनर्जी देने में फायदेमंद
शरीर की एनर्जी बढ़ाने के लिए देसी घी और मिश्री का एक साथ सेवन करना बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि देसी घी और मिश्री का एक साथ सेवन करने से शरीर को इंस्टेंट एनर्जी मिलती है। साथ ही इससे थकान या कमजोरी भी दूर होती है।
यह भी पढ़े: सेब का जूस अस्थमा और हार्ट के बीमारियों के लिए है रामबाण इलाज, जानें इसके अन्य फायदे

4. पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में फायदेमंद
पाचन तंत्र को बेहतर बनाने के लिए देसी घी और मिश्री का एक साथ सेवन करना बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि इनमें पाए जाते वाले गुण पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। जिससे पाचन तंत्र बेहतर रहता है और पाचन से जुड़ी कई समस्याएं भी दूर होती हैं।

डिस्क्लेमर- आर्टिकल में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल सामान्य जानकारी प्रदान करते हैं। इन्हें आजमाने से पहले किसी विशेषज्ञ अथवा चिकित्सक से सलाह जरूर लें। 'पत्रिका' इसके लिए उत्तरदायी नहीं है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/LX4Tp6g

No comments

Powered by Blogger.