Header Ads

गठिया के दर्द और जोड़ों के सूजन को कम करने में सहायक है वीगन डाइट, जानिए इसके फायदे

हाल ही में प्रकाशित हुए एक अध्यन "अमेरिकन ऑफ़ लाइफस्टाइल मेडिसिन" के अनुसार इस बात का जिक्र किया गया है कि "रूमेटोइड गठिया से ग्रसित लोगों के लिए जोड़ों में होने वाले दर्द और सूजन को कम करने के लिए पौधे आधारित आहार एक नुस्खा हो सकता है। वीगन डाइट को यदि आप फॉलो करते हैं तो काफी हद तक गठिया में होने वाले दर्द से आपको राहत मिलती है। वीगन डाइट को फॉलो करने से गठिया की समस्या तो दूर होती ही है साथ ही साथ वजन भी कम हो जाता है।

क्या है वीगन डाइट
वीगन डाइट की बात करें तो ये एक ऐसी डाइट है जिसमें डेयरी डाइट, दूध, शहद, मक्खन, अंडे के जैसे कई सारे अन्य चीजों का सेवन नहीं किया जाता है। इस डाइट को यदि आप फॉलो करते हैं तो आप केवल फलीदार चीजें, सब्जियां, नट्स और ड्राई फ्रूट्स का सेवन कर सकते हैं। बहुत से लोग इसे वेजिटेरियन डाइट के नाम से भी जानते हैं लेकिन ये वेजिटेरियन डाइट नहीं होती है क्योंकि इसमें दूध, मक्खन के जैसे अन्य चीजों का सेवन नहीं किया जाता है।

 

वीगन डाइट खाएं और गठिया की समस्या को दूर करें
अध्यन में इस बात का भी जिक्र किया गया है कि जो व्यक्ति शाकाहारी भोजन का सेवन अधिक मात्रा में करता है उनमें सूजन कि समस्या और लोगों से कम पाई जाती है। वीगन डाइट को फॉलो करने से खून में "सीआरपी" नामक रसायन भी कम हो जाता है। ये रसायन यदि शरीर में ज्यादा मात्रा में हो जाए तो शरीर में जलन भी उत्पन्न हो सकती है। अध्यन में शामिल रोगियों को तीन महीने तक वीगन डाइट दी गई और कुछ लोगों को सामान्य भोजन दिया गया और उनके रक्त में अलग-अलग रसायनों की स्थिति पर भी नजर राखी गई। अध्यन में पाया गया कि वीगन डाइट बॉडी में नेचुरल एंटीबॉडीज को बढ़ाने में काफी ज्यादा ज्यादा फायदेमंद साबित होते हैं। जिससे कि रियूमेटायड आर्थराइटिसके स्तर को काफी हद तक कम किया जा सकता है।

वीगन डाइट को फॉलो करने के और फायदों कि बात करें तो जो व्यक्ति वीगन डाइट को फॉलो करते हैं उनको औसतन 14 पाउंड की कमी को देखा गया है, वहीं प्लेसीबो आहार पर लगभग 2 पाउंड का फायदा भी हुआ है।

यह भी पढ़ें: आयुर्वेद: सेहत को लंबे समय तक बना के रखना चाहते हैं स्वस्थ तो गिलोय और अश्वगंधा जैसे कई जड़ी-बूटियों को करें डाइट में शामिल



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/a2xOQpU

No comments

Powered by Blogger.