Header Ads

ग्रीन टी से कहीं ज्यादा फायदेमंद है तेज पत्ते की चाय, डायबिटीज से लेकर मोटापा तक रहेगा कंट्रोल

ग्रीन टी पी कर आपको लगता होगा कि आपने सबसे अच्छी और फायदेमंद चाय पी है, तो आपको बता दें कि आप अगर इसकी जगह तेज पत्ते की चाय पीएं तो उसके लाभ और भी ज्यादा होंगे। तेज पत्ते जड़ी-बूटी की तरह बीमारियों से लड़ने वाले होते हैं। इसलिए अगर आप इसकी चाय पीना शुरू कर दें तो आपकी छोटी-मोटी बीमारियां ही नहीं, शुगर कंट्रोल या वेट लॉस की प्रक्रिया भी तेज हो सकती है।

तेज पत्ते की चाय रोज दो प्याली पीना ही काफी है, लेकिन अगर आप इसे सुबह खाली पेट पीएं तो इसके लाभ ज्यादा मिलेंगे। दूध की चाय की जगह तेज पत्ते की चाय पीने की आपकी आदत एक हफ्ते में ही कई बदलाव दिखाने लगेगी। तो चलिए जानें कि तेज पत्ते की चाय पीने के क्या-क्या फायदे हैं।

तेज पत्ते की चाय पीने के फायदे
इंफेक्शन होगा बचाव
- तेजपत्ते की चाय में अगर आप नींबू डाल कर पीएं तो ये आपकी इम्युनिटी को मजबूत करने में कारगर होगी। ये चाय इम्यूनिटी बूस्टर की तरह काम करेगी। इसमें एंटी-बैक्टीरियल गुण होते है और इसके चलते ये इंफेक्शन से बचाता है। इसे अगर रोज पीना शुरू कर दिया जाए तो वायरल और बैक्टीरियल संक्रमण से भी बचा जा सकता है।
दिल के लिए भी फायदेमंद - तेज पत्ते की चाय के जरिये पोटैशियन, एंटीऑक्सीडेंट और आयरन जैसे पोषक तत्व शरीर को मिलते हैं। ये ब्लड प्रेशन को सामान्य बनाने में मददगार होती है।।

ब्लड शुगर कंट्रोल में सहायक - तेज पत्ते की चाय ब्लड शुगर कंट्रोल करने में भी कारगर है, क्योंकि इसमें मौजूद फाइटोकेमिकल्स डायबिटीज में बहुत फायदेमंद होता है। रोजाना दो कप चाय ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में काफी मददगार साबित हो सकती है।
वेट लॉस तेज होगा- तेज पत्ते की चाय में वेट लॉस तेज करने का भी गुण छुपा है। तेजपत्ता मेटाबॉलिक रेट बढ़ाने वाला होता है। इससे फैट बर्न करने में आसानी होती है।
तनाव और सिर दर्द दूर करने में सहायक- तनाव और इससे होने वाले सिर दर्द में भी तेज पत्ते की चाय बहुत कारगर है। सिर दर्द के अलावा पेट में दर्द होने पर भी अगर तेज पत्ते का काढ़ा पीया जाए तो पेट दर्द से तुरंत आराम मिल जाता है।

benefits_of_bay_leaf_tea.jpg

नसों की सूजन होगी दूर- कई लोगों को नसों में सूजन की शिकायत हो जाती है। नसों में सूजन आ जाने से इनमें कई बार दर्द भी होता है। अगर आपको भी नसों में सूजन आ जाती है तो आप तेज पत्ते का प्रयोग कर इस सूजन को सही कर सकते हैं। तेज पत्ते का काढ़ा पीने से और इसका तेल लगाने से नसों की सूजन भी दूर होती है।
ऐसे बनाएं तेज पत्ते की चाय
तेजपत्ते की चाय बनाने के लिए सबसे पहले 3 तेजपत्ता लें। अगर आपको इसके हरे पत्ते मिल जाएं तो बहुत अच्छा। अगर नहीं मिलते तो आप सूखे पत्ते से भी काम चला सकते हैं। अब इन पत्तों को 2 कप पानी में डालकर अच्छी तरह से उबाल लें। इसके बाद इसमें एक चुटकी दालचीनी पाउडर डालकर उबालें। जब पानी आधा रह जाए, तो इसे छान लें। अब इसमें शहद और नींबू का रस डालकर सर्व करें। नियमित रूप से इस चाय का सेवन करने से शरीर को कई फायदे होंगे।

(डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए हैं और इसे पेशेवर चिकित्सक सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता। किसी भी तरह का फिटनेस प्रोग्राम शुरू करने अथवा अपनी डाइट में किसी तरह का बदलाव करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।)



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/D820OiR

No comments

Powered by Blogger.