Header Ads

Heart Health: क्या दिल को बीमरियों से बचाने में नहीं है सब्जियों की कोई भूमिका

आपने लगभग हर घर में देखा होगा कि, माँओं को हमेशा यही शिकायत रहती है कि उनका बच्चा सब्जियां या ठीक से खाना नहीं खाता। सभी माँएं कोशिश करती हैं कि उनका बच्चा बचपन से ही सारी सब्जियां और फलों को खाना सीख जाये। वैसे भी सब्जियों और फलों में कई तरह के पोषक तत्त्व मौजूद होते हैं, जो आपकी सेहत के लिए फायदेमंद माने गये हैं।

सब्जियों को अपनी डाइट में शामिल करने से आपके शरीर को जरुरी विटामिन और खनिज प्राप्त होते हैं। जिससे आपका शरीर सही ढंग से काम करने के साथ ही रोगों से भी लड़ पाता है। पोषण विशेषज्ञों का भी मानना है कि आपको दिन भर में अपनी डाइट में कम से कम 5 सब्जियां और 2 फलों को शामिल करना करना चाहिए। क्योंकि इनके सेवन से आपको पर्याप्त मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट्स, डाइटरी फाइबर, विटामिन-सी, विटामिन-ए, फोलेट आदि मिलते हैं। साथ ही विशेषज्ञों के अनुसार, आहार में मात्रा का ध्यान रखने के साथ-साथ वेराइटी होना भी जरुरी है।

 

vegg.jpg

डाइट में सब्जियों और फलों को शामिल करने का मतलब यह भी है कि इससे आपको उच्च रक्तचाप, पाचन समस्याओं आदि से राहत मिलने के साथ ही इनका सेवन आपकी त्वचा, बालों और आँखों के लिए लाभकारी माना गया है। इन फायदों में ह्रदय स्वास्थ्य और हार्ट स्ट्रोक का खतरा कम होना भी शामिल है, परन्तु एक नए शोध के अनुसार ऐसा शायद नहीं है।

आपको बता दें कि, यूके के वैज्ञानिकों ने बड़े पैमाने पर हुई रिसर्च के तहत पता लगाया है कि, ऐसा ऐसा कोई ठोस सबूत नहीं है कि सब्जियों का सेवन आपके दिल को बीमारियों से सुरक्षा दे सकता है। साथ ही उन्होंने पाया कि इस बारे में कोई ठोस सबूत नहीं है कि अपनी डाइट में पर्याप्त मात्रा में पकी और कच्ची सब्जियों को शामिल करने से कार्डियोवैस्कुलर डिसीज़ के खतरे के स्तर पर कोई प्रभाव पड़ता है।

disease.jpg

हालांकि, पहली बारी में देखने पर शायद सब्जियों में पाए जाने वाले कैरोटिनॉइड्स और अल्फा-टैकोफिरोल जैसे गुणों के कारण सब्जियों का सेवन आपको सीवीडी यानि कार्डियोवैस्कुलर डिसीज़ के खतरे से बचा सके। लेकिन अब हुई स्टडी कि मानें तो शोधकर्ताओं ने बताया कि, सीवीडी पर सब्जियां खाने के समग्र प्रभाव की बात करें, तो पहले हुए अध्ययनों के साक्ष्य असंगत रहे हैं।

यह भी पढ़ें: जरुरी विटामिन और मिनरल्स के लिए डाइट में शामिल करें ये चीजें...



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/TMprBLR

No comments

Powered by Blogger.