Header Ads

Strong Shoulder Asana: कंधों की मजबूती के लिए करें ये आसन

नई दिल्ली। Strong Shoulder Asana: आज हम आपको कुछ ऐसे आसनों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपके कंधों को मजबूती प्रदान करने के साथ ही संपूर्ण शरीर का संतुलन बनाए रखने में भी सहायता करते हैं। इन आसनों के अभ्यास से हर काम करने के लिए आपके कंधे मजबूत बनते हैं। साथ ही आपके अंदर आत्मविश्वास भी पैदा होता है। तो यह जानते हैं इन आसनों के बारे में...

1. सुमेरू आसन
सुमेरू आसन करने के लिए सर्वप्रथम योगा मैट पर वज्रासन में बैठ जाएं। इसके बाद पूरक करते हुए घुटनों पर बैठ जाएं और रेचक करते हुए अपने दोनों हाथों को कंधों के ठीक नीचे जमीन पर रखें। पैरों के पंजों को नीचे से मोड़कर अपने नितम्बों को ऊंचा उठा लें। ध्यान रहे कि आपकी टांगे एकदम सीधी रहें और संपूर्ण शरीर का भार दोनों हाथों तथा पैरों की पिंडलियों पर रहे। अपनी नजरें नाभि की ओर रखें। सांसो की गति सामान्य रखते हुए जब तक आप इस स्थिति में रह सकते हैं तब तक रहें। आसन से बाहर आने के लिए पूरक करते हुए वापस घुटनों के बल बैठ जाएं। और रेचक करते हुए प्रांरभिक स्थिति में आ जाएं।

sumeru-asana.jpg

यह भी पढ़ें: हाथों को हमेशा मुलायम बनाए रखने के लिए अपनाएं यह तरीका

2. नौकासन
नौकासन करने के लिए सबसे पहले योगा मैट पर पीठ के बल लेट जाएं। अब एक गहरी साँस लेते हुए दोनों पैरों को साथ में जमीन से जितना ऊपर हो सके उठाने की कोशिश करें। अपने दोनों हाथों को पैरों के समांतर रखते हुए ऊपर की ओर उठ जाएं। ध्यान रहे आपके नितंब जमीन पर टिके हुए हों तथा आपका शरीर जमीन से 45 डिग्री के कोण पर रहे। साथ ही आपकी कोहनी तथा घुटने मुड़ने नहीं चाहिए। कुछ समय इसी अवस्था में रुपए तथा सांस बाहर छोड़ते हुए धीरे-धीरे प्रारंभिक स्थिति में वापस लौट आएं।

naukasana.jpg

3. बकासन
इस आसन को करने के लिए सबसे पहले ताड़ासन में खड़े हो जाएं। इसके बाद नीचे झुकें और दोनों हाथों की हथेलियों को खोलकर जमीन पर रखें। सुनिश्चित करें कि आपकी उंगलियां आगे की ओर खुली हुई तथा सीधी होनी चाहिए। साथ ही कोहनियां हल्की सी झुकी होनी चाहिए। अपनी भुजाओं को झुकाएं और अपने घुटनों को फर्श पर आर्मपिट के पास लाने की कोशिश करें। भुजाओं से अपने घुटनों को हल्का सा दबाएं और धीरे-धीरे पैरों की उंगलियों को जमीन से ऊपर उठाने की कोशिश करें। भुजाओं पर शरीर का संतुलन बनाते हुए कूल्हों को ऊपर की ओर उठाने की कोशिश करें।

गर्दन को सीधा रखते हुए नजरें सामने की ओर रखें तथा किसी एक जगह ध्यान केंद्रित करें। एक बिंदु पर ध्यान केंद्रित करने के बाद जब शरीर का संतुलन बन जाए, तो दोनों पैरों को एक दूसरे के पास लाने की कोशिश करें। इस स्थिति के बाद आपके संपूर्ण शरीर का भार दोनों हाथों की हथेलियों पर होगा तथा पैर हवा में होंगे। शरीर का संतुलन हथेलियों पर बनाए रखें और कूल्हे भी ऊपर की ओर उठे हुए होने चाहिए। सांसो की गति सामान्य रखते हुए 15-20 सेकंड तक इसी पोजीशन में बने रहें और फिर धीरे-धीरे सामान्य अवस्था में लौट आयें।

 

bakasana.jpg

from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/30Dyvpc

No comments

Powered by Blogger.