Header Ads

Yoga For Abs: एब्स बनाने में मददगार ये 5 योगासन, जानें इन्हें करने का सही तरीका

New Delhi: आजकल की बिजी लाइफस्टाइल में लोगों के पास सब कुछ है, सिर्फ समय नहीं है। हेल्दी लाइफस्टाइल को बनाए रखने के लिए फिटनेस बहुत जरूरी होता है। लेकिन कई बार व्यस्त दिनचर्या की वजह से हम खुद के लिए इतना समय भी नहीं निकाल पाते हैं कि फिटनेस की तरफ ध्यान दे सकें। यदि आप बिना जिम किए हुए आसानी से आकर्षक एब्स बनाना चाहते हैं तो घर पर नियमित रूप से इन 5 योगासन का अभ्यास जरुर करें। तो आइए जानते हैं कि एब्स बनाने वाले ये योगासन कौन-कौन से हैं और इन्हें करने का सही तरीका क्या है।

भुजंगासन

भुजंगासन को कोबरा पोज भी कहा जाता है यह बहुत सरल योगासन है। यह पीठ के निचले हिस्से के दर्द को दूर करने, थकान से लड़ने और शरीर में ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने में मदद करती है। एक साधारण योगासन होने के बावजूद, इसका अभ्यास करना आपके शरीर के लिए चमत्कार कर सकता है। यह योगासन आपके शरीर का मेटाबॉलिज्म सुधरता है और वजन कम करने में मदद करता है। साथ ही इससे कमर का निचला हिस्सा मजबूत बनता है, जो आपको एब्स बनाने में मदद कर सकता है।

भुजंगासन करने का तरीका:-

  • पेट के बल अपनी दोनों हथेलियों को जांघों के पास रखकर जमीन पर लेट जाएं।
  • इसके बाद अपने दोनों हाथों को कंधे के बराबर लेकर आएं और दोनों हथेलियों को फर्श की तरफ करें।
  • अब अपने शरीर का वजन अपनी हथेलियों पर डालें, सांस भीतर खींचें और अपने सिर को उठाकर पीठ की तरफ खींचें।
  • इसके बाद अपने सिर को पीछे की तरफ खीचें और साथ ही अपनी छाती को भी आगे की तरफ निकालें।
  • इसके बाद अपने हिप्स, जांघों और पैरों से फर्श की तरफ दबाव बढ़ाएं।
  • शरीर को इस स्थिति में करीब 15 से 30 सेकेंड तक रखें उसके बाद वापस शुरुआती अवस्था में आ जाएं।

यह भी पढ़ें: यह एक्सरसाइज अपनाएं और बैली फैट घटाएं

त्रिकोणासन

इस योग का अभ्यास करते समय शरीर का आकार त्रिकोण (ट्रायंगल) के समान होने के कारण इसे त्रिकोणासन या ट्रायंगल पोज कहा जाता हैं। इसका नियमित अभ्यास करने से आपके पेट, कमर, जांघ और नितंब पर जमी अतिरिक्त चर्बी को आसानी से घटाया जा सकता हैं।

त्रिकोणासन करने का तरीका:-

  • दोनों पैरों के बीच 2 से 3 फुट का फासला छोड़कर सीधे खड़े हो जाएं।
  • इसके बाद आपको अपनी बांहों को शरीर से दूर कंधे तक फैलाना होगा।
  • अब सांस अंदर करते हुए दाएं हाथ को ऊपर उठाकर कान से सटा लें, साथ ही बाएं पैर को बाहर की ओर मोड़ दें।
  • इसके बाद आपको सांस बाहर छोड़ते हुए कमर को बाईं ओर झुकना होगा।
  • अब अपने दाएं हाथ को जमीन के समानांतर लाने का प्रयास करें और साथ ही बाएं हाथ से बाएं टखने को छूने की कोशिश करें।
  • इस मुद्रा में 10 से 30 सेकंड तक रहने का प्रयास करें और फिर सांस छोड़ते हुए अपनी प्रारंभिक अवस्था में आ जाएं।

नावासन

इस योग के अभ्यास के दौरान शरीर का आकार नाव जैसा हो जाता है इसलिए इसे नावासन कहते हैं। इस आसन के दौरान शरीर का पूरा भार बीच में पड़ता है। यही शरीर का कोर एरिया होता है। इस आसन को करने से एब्डॉमिनल मसल्स या एब्स की मसल्स को मजबूती मिलती है।

नावासन करने का तरीका:-

  • अपनी दोनों टांगों को सामने की तरफ स्ट्रेच करके रखें और दोनों हाथों को हिप्स से थोड़ा पीछे की तरफ फर्श पर रखें।
  • शरीर को ऊपर की तरफ उठाएं और अपने रीढ़ की हड्डी को एकदम सीधा रखें।
  • इसके बाद सांस को बाहर की तरफ छोड़ें।
  • पैरों को फर्श से 45 डिग्री के एंगल पर उठाएं और हिप्स को नाभि के करीब ले आएं।
  • इसके बाद हाथों को ऊपर उठाएं और फर्श के समानांतर स्ट्रेच करें।
  • इस स्थिति में 10 से 20 सेकेंड तक रहें। इसके बाद सांस छोड़ते हुए धीरे-धीरे शुरुआती अवस्था में आ जाएं।

उष्ट्रासन

इस योग का अभ्यास करते समय शरीर का आकार ऊंट (कैमल) के समान होने के कारण इसे उष्ट्रासन या कैमल पोज कहा जाता हैं। इसका नियमित अभ्यास करने से सीने और पेट के निचले हिस्से से अतिरिक्त चर्बी कम होती है। जो आपको आकर्षक एब्स बनाने में मदद करता है।

उष्ट्रासन करने का तरीका:-

  • इस आसन को शुरू करने के लिए मैट पर घुटनों के बल बैठ जाएं और अपने हाथ अपने हिप्स पर रख लें।
  • अपने घुटनों की चौड़ाई कंधों के बराबर रखें और तलवें पूरे फैले हुए आसमान की तरफ रखें।
  • अब अपनी रीढ़ की हड्डी को पीछे की तरफ झुकाते हुए दोनों हाथों को एड़ियों पर टिकाने की कोशिश करें।
  • ध्यान रखें कि इस दौरान आपकी गर्दन पर अत्यधिक दबाव ना पड़े और कमर से लेकर घुटनों तक का हिस्सा सीधा रहे।
  • इसी स्थिति में 30 से 60 सेकेंड तक रहें और फिर धीरे-धीरे पुरानी अवस्था में लौट आएं।

यह भी पढ़ें: इस डांस एक्सरसाइज की फंकी बीट्स आसानी से घटा देंगी आपका वजन

फलकासन

फलकासन को प्लैंक पोज (Plank Pose) भी कहा जाता है ये लेटकर किया जाने वाला बहुत ही आसान योगासन है। फलकासन को एब्स बनाने के लिए बहुत ही प्रभावी योगासन माना जाता है। इस आसन को करने के दौरान पेट की मसल्स पर दबाव पड़ता है जो पेट की चर्बी को कम करने में मदद करता है।

फलकासन करने का तरीका:-

  • इस आसन को करने के लिए पेट के बल लेट जाएं और अपने दोनों पैरों के बीच थोड़ी दूरी बनाकर रखें।
  • इसके बाद अपने हाथों को कोहनियों से मोड़ते हुए जमीन पर रखें और हाथ की अंगुलियों को फैलाएं।
  • अब धीरे-धीरे सांस लेते हुए हाथों पर जोर देते हुए अपने पूरे शरीर को ऊपर उठाने की कोशिश करें।
  • 40 से 60 सेकेंड इस अवस्था में रहने के बाद धीरे-धीरे सामान्य अवस्था में वापस आ जाएं।


from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/38QrQIQ

No comments

Powered by Blogger.