Header Ads

Stress : तनाव को दूर करने के लिए रोजाना करें यह आसन, मन को मिलेगी बेहद शांति

आपको भी किसी प्रकार का तनाव है और आप अपना दिमाग शांत रखना चाहते हैं। तो आप शांत जगह बैठकर यह आसन करें। इससे तनाव तो दूर होगा ही, साथ ही आपका मन भी शांत रहेगा और आपके दिमाग में भी सकारात्मक विचार आएंगे। आइए जानते हैं यह कौन सा योगासन है।

दरअसल, तनाव आजकल हर व्यक्ति को किसी ना किसी कारण से होता है। किसी को नोकरी, कामकाज के कारण, तो किसी को पारिवारिक, तो किसी को अन्य कारणों से भी तनाव रहता है। अगर आप भी तनाव का शिकार हैं। तो आप किसी शांत जगह पर बैठकर सुखासन करें। इसे करने से आपका मन शांत रहेगा और आपको तनाव से मुक्ति मिलेगी। आइए जानते हैं यह आसन किस प्रकार करना चाहिए।

यह भी पढ़ें - आंखों की देखभाल के लिए करें यह घरेलू उपाय, नहीं होगी खुजली और सूखेपन की समस्या.

इस तरह करें सुखासन-

-सुखासन करने के लिए आपको सबसे पहले मैट बिछाकर पालकी मारकर बैठना है। इसके बाद अपने दोनों हाथों को ओम की अवस्था में अपने घुटनों पर रखें। इस दौरान आप की रीढ़ की हड्डी सीधी रहना चाहिए और आंखें बंद करके शरीर को बिल्कुल ढीला छोड़ दें। इस अवस्था में आप करीब 10 मिनट तक रहें। फिर इसे आप रुक रुक कर चाहे जितनी बार कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें - ज्यादा खाने से भी नहीं बढ़ता है वजन, तो आहार में शामिल करें यह फूड्स.

सुखासन के लाभ-

-इस आसन को करने से आपका तनाव बहुत कम हो जाता है। इससे एकाग्रता बढ़ती है और आप का ध्यान लगता है। इससे गुस्सा कम होता है और रोजाना यह आसन करने से आपके दिमाग को शांति मिलती है। शरीर लचीला होता है और आपकी मांसपेशियां मजबूत होती है। शरीर में ब्लड सरकुलेशन भी बेहतर रहता है और यह आपके लिए भी फायदेमंद है।

यह भी पढ़ें - इस विटामिन का सेवन करने पर नहीं नजर आएगा बुढ़ापा.

-सुखासन करने में उन लोगों को बेहद सावधानियां बरतनी होगी। जिनकी रीढ़ की हड्डी में दर्द होता है। या अन्य किसी दर्द की समस्या है। इस आसन को खाली पेट करना चाहिए और जिन्हें साइटिका या अन्य कोई बड़ी समस्या है। वह भी इस आसन को नहीं करें।

यह भी पढ़ें - सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है पालक, नहीं होती है शरीर में खून की कमी.

-योग और प्राणायाम आपके शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। रोजाना करने से आपका शरीर स्वस्थ रहेगा और कई बीमारियां आपको छू भी नहीं पाएगी। लेकिन योग प्राणायाम हमेशा किसी प्रशिक्षित योग गुरु के मार्गदर्शन में करना चाहिए। जिससे आप को उसके लाभ मिले और किसी प्रकार की समस्या नहीं आये।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3Do72qg

No comments

Powered by Blogger.