Header Ads

Health tips : रोजाना चार दाने काली मिर्च का सेवन आपको रखेगा सेहतमंद

काली मिर्ची में विभिन्न पोषक तत्व होते हैं। जो आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। इसका सेवन करने से आपका इम्यूनिटी सिस्टम तो स्ट्रांग होता ही है। साथ ही आपको पेट, स्कीन ओर सेहत से संबंधित कोई समस्या भी नहीं होती है। सर्दी जुकाम जैसी समस्या से भी आपका बचाव होता है। इसलिए काली मिर्च का सेवन जरूर करना चाहिए।

काली मिर्च का सेवन करने से यह होते हैं फायदे-

-काली मिर्च का सेवन करने से हमारा रक्त संचार बेहतर होता है। इससे मांसपेशियों के दर्द से निजात मिलती है और हमारा इम्यूनिटी सिस्टम भी स्ट्रांग होता है।

-अगर आपका गला बंद है या गले में किसी प्रकार की समस्या है। तो आप कालीमिर्च को पीसकर घी के साथ मिलाकर चाटे। इससे आपका गला खुल जाएगा और सर्दी जुकाम जैसी समस्या से भी निजात मिलेगी।

-सर्दी जुकाम होने पर आप करीब 15 तुलसी के पत्तों को करीब 10 काली मिर्च के साथ पीसकर चाय में डालें और इसकी चाय बनाकर पीएं। इससे आपको काफी आराम महसूस होगा।

-दिमाक तेज करने के लिए आप कालीमिर्च को पीसकर शहद में मिलाकर खाएं। इससे आपकी याददाश्त भी बढ़ेगी और दिमाग भी तेज होगा।

-आपके मुंह से बदबू आती है। तो इस समस्या को दूर करने के लिए आप काली मिर्ची के दाने ब्रश करने से पहले खाए और बाद में ब्रश कर ले। इससे मुंह से आने वाली बदबू से निजात मिलेगी।

-नमक और काली मिर्च को मिलाकर पीस लें और इसे मंजन के रूप में करें। इससे मसूड़ों की सूजन भी कम होगी और पायरिया की समस्या में भी फायदा मिलेगा।

-आंखों के लिए भी काली मिर्ची का सेवन फायदेमंद होता है। इसके लिए आप सीके हुए आटे में देसी घी डालें, इसमें काली मिर्च और शक्कर मिला लें और सुबह शाम 5 चम्मच मिश्रण दूध के साथ लेने से फायदा होगा। अगर चश्मा भी लगा है तो वह उतर सकता है।

-आपको पेट में गैस एसिडिटी की समस्या है। तो आप एक कप पानी में आधा नीबू का रस आधा, चम्मच पिसी काली मिर्च और आधा चम्मच काला नमक मिलाकर पिए, इससे बहुत आराम मिलेगा।

-उल्टी दस्त की समस्या से निजात पाने के लिए आप काली मिर्च हींग और कपूर मिलाकर छोटी-छोटी गोलियां बना लें और उन्हें हर 3 घंटे बाद सेवन करें। इससे आपको आराम मिलेगा। इसी के साथ त्वचा पर कहीं पर भी फुंसी है। तो काली मिर्च को पानी के साथ पीसकर लगाने से फुंसी दब जाती है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3sIUapH

No comments

Powered by Blogger.