Header Ads

Curry Leaves :- पोषक तत्वों से भरपूर है करी पत्ता, इस तरह करें घर में उपयोग

करी पत्ता छोटे आकार की पत्तियां होती है। जो सुगंधित होने के साथ बहुत कोमल होती है। इनका उपयोग कई घरों में कड़ी सहित कई अन्य सब्जियों और व्यंजनों में किया जाता है। Curry Leaves पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसलिए यह पाचन तंत्र को भी मजबूत करता है। तो आइए जानते हैं आप इसका किस तरह उपयोग कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें - चेहरे पर समय से पहले नजर आ रही है झुर्रियां तो यह करें घरेलू उपाय।

कोलेस्ट्रोल करता है कम -

करी पत्ता का सेवन करने से यह आपके पाचन तंत्र को दुरुस्त करता है। कब्ज की समस्या से राहत दिलाता है और कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी कम करता है। यह आपके शरीर को फिट रखता है। इसलिए इसका सेवन करना चाहिए।

यह भी पढ़ें - सुबह सुबह तुलसी का पानी पीना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद।

नाश्ते और जूस में करें उपयोग-

घर में आप कोई नाश्ता तैयार कर रहे हैं। तो इसमें करी पत्ते का उपयोग कर सकते हैं। आप पोहे, उपमा, साबूदाने की खिचड़ी आदि में भी करी पत्ता डाल सकते हैं। इसी के साथ आप सब्जियों या फलों का जूस तैयार कर रहे हैं, तो उसमें भी 8-10 करी के पत्ते मिला सकते हैं। क्योंकि करी पत्ता एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है। जो आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है। इसमें विटामिन सी और इ भी होता है। जो आपकी स्किन के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इससे कील मुंहासे दूर होते हैं। क्योंकि यह एक एंटीसेप्टिक का काम करता है।

यह भी पढ़ें - मोटापा कम करने की कोशिश कहीं इन गलतियों के कारण तो नहीं हो रही बेकार।

करी पत्ते के पाउडर के फायदे-

करी पत्ते को तोड़कर सुखा लें और इसे मिक्सर में पीस कर पाउडर बना सकते हैं। फिर इसका उपयोग विभिन्न प्रकार से कर सकते हैं। गर्भावस्था के दौरान भी करी पत्ते का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। इसके लिए दो कटोरी करी पत्ते को धूप में सुखाकर उनका पाउडर बनाएं और इसे मॉर्निंग सिकनेस और जी मचलने के दौरान सुबह उठकर आधी छोटी चम्मच पाउडर लेकर सेवन करें। मधुमेह के रोगियों के लिए भी यह फायदेमंद होता है।

यह भी पढ़ें - गर्दन पर छाया है कालापन तो इस तरह करें दूर।

पेट फूलने पर करें उपयोग-

यदि आपको पेट फूलने की समस्या होती है। तो आप करी पत्ते का उपयोग छाछ के साथ कर सकते हैं। आप आधा छोटा चम्मच करी पत्ता पाउडर छाछ में मिलाकर पीएं। इससे आपको फायदा होगा। क्योंकि करी पत्ता एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटी बैक्टीरियल, एंटी डायबिटिक, एंटी डायसेंट्री गुणों से भरपूर होता है। यह कोलेस्ट्रोल को कम करता है और एनीमिया यानी खून की कमी को भी दूर करता है। दांतो के लिए भी यह फायदेमंद होता है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3jGAArQ

No comments

Powered by Blogger.