Header Ads

Health News in Hindi: हैवी ब्रेकफास्ट और हल्के डिनर से करें डायबिटीज को कंट्रोल

Health News in Hindi: अगर आप डायबिटीज (टाइप 2) से पीडित हैं, तो सुबह में गरिष्ठ (हैवी) नाश्ता और रात में हल्का भोजन करें, इससे आपका ब्लड शुगर नियंत्रित रहेगा। एक नए शोध में यह बात सामने आई है।

इजरायल के तेल अवीव विश्वविद्यालय में प्रोफेसर डेनिएला जाकुबोविक्ज ने कहा कि डायबिटीज के मरीज अगर गरिष्ठ नाश्ता करते हैं, तो भोजन के बाद उनके खून में शुगर का लेवल पूरे दिन बेहद कम रहता है। निष्कर्ष में यह बात सामने आई है कि अगर इस तरह का भोजन किया जाए, तो टाइप 2 डायबिटीज से होने वाली समस्याएं नियंत्रण में रहती हैं।

Read More: जीवन का आनंद लेना है तो सुबह जल्दी उठने की ऐसे डालें आदत

अध्ययन में टाइप 2 डायबिटीज के 30-70 साल उम्र के प्रतिभागियों को शामिल किया गया। इस दौरान, गरिष्ठ नाश्ता और हल्का भोजन (बी आहार) एवं हल्का नाश्ता तथा गरिष्ठ भोजन (डी आहार) के परिणामों की तुलना की गई।

तुलना के दौरान यह बात सामने आई कि डी आहार लेने वालों की तुलना में बी आहार लेने वाले लोगों में कम रक्त शर्करा (21-25 फीसदी तक) और उच्च इंसुलिन (23 फीसदी तक) पाया गया। यह अध्ययन पत्रिका "डायबिटोलॉजिया" में प्रकाशित हुआ है।

Read More: फिट रहने के लिए महिलाओं और पुरुषों को रोज लेनी चाहिए इतनी कैलोरी

खाने के नियम तय करें

मधु मे ह के रोगियों को कभी भी किसी भी समय का भोजन टालना नहीं करना चाहिए । सामान्य रूप से प्रत्येक व्यक्ति को दिन में 3-4 बार भोजन करना चाहिए ताकि शुगर लेवल कंट्रोल रहे । इसमें किसी तरह की लाप रवाही न करें । सुबह का नाश्ता सूर्यो दय के बाद जल्दी से जल्दी करना अच्छा होता है। खिचड़ी, दलिया, अंकु रित अनाज, दूध व फल आदि को ना श्ते में ले सकते हैं ।

Read More: डिप्रेशन के यह लक्षण नजर आने पर तुरंत करें घरेलू उपाय

व्यायाम

शारी रिक व मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए रोजाना कम से कम एक घंंटा एक्सरसाइज करें । एरो बिक्स, ब्रिस्क वॉक, जॉगिंग व साइ क्लिंग से कै लोरी बर्न होती है । बुजुर्ग लोग या जिन्हें जोड़ों में दर्द की सम स्या है, वे एक घंटे टहलें । योग व मेडिटेशन से चिंता व तनाव दूर करें ।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3cUCyk6

No comments

Powered by Blogger.