Header Ads

Diet Plan :- अस्थमा अटैक से बचने ऐसा बनाएं डाइट प्लान, इन चीजों को करें आहार में शामिल

अस्थमा ऐसी बीमारी है। जिसके कारण व्यक्ति अंदर ही अंदर खोखला होता जाता है। ऐसे में समय रहते Asthma पर ध्यान देना जरूरी है।ताकि किसी गंभीर अवस्था का सामना नहीं करना पड़े। इसलिए हमें अपनी डाइट में कुछ चीजों को शामिल करते हुए अपना डाइट प्लान बेहतर बनाना होगा।

दरअसल, कोरोना काल में स्वास्थ्य का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है। ऐसे में उन लोगों को ध्यान देने की अधिक जरूरत है। जो किसी न किसी बीमारी से पीड़ित हैं। ऐसे में अस्थमा और अटैक से पीड़ित लोगों को भी ध्यान देने की बहुत जरूरत है। क्योंकि ऐसे लोगों पर कोरोना वायरस का कहर अधिक बरपता है।

अस्थमा से पीड़ित लोगों को सांस लेने में काफी दिक्कत होती है। साथ ही खांसी और घबराहट भी होती है। वही अटैक का मुख्य कारण शरीर में बलगम और श्वास नली संकीर्ण होना है। अस्थमा के अटैक के कई कारण होते हैं। इसलिए अस्थमा के रोगी इनहेलर लेकर अपने आप को तुरंत ठीक करने की कोशिश करते हैं। अस्थमा के रोगियों को अपनी डाइट पर विशेष ध्यान देना होगा।

यह भी पढ़ें - स्वस्थ रहने के लिए शरीर को चाहिए विटामिन B12, इन स्रोतों से करे पूर्ति।

अस्थमा के रोगी इन चीजों का करें सेवन-

यह फूड्स खाएं-

अस्थमा के रोगियों को विटामिन सी से भरपूर फूडस का सेवन करना चाहिए। क्योंकि यह एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होते है। जो फेफड़ों को की सुरक्षा करने में मददगार होता है। जो लोग विटामिन सी युक्त पदार्थों का सेवन करते हैं। उन्हें अस्थमा अटैक का खतरा भी कम होता है। इसलिए आप संतरा, ब्रोकली, कीवी आदि चीजें डाइट में शामिल करें।

यह भी पढ़ें - बदलते मौसम के कारण गले में संक्रमण और खराश है तो इस तरह करें दूर।

शहद-दालचीनी का करें सेवन-

अस्थमा के रोगियों को शहद और दालचीनी का सेवन करना चाहिए। इसके लिए रात में सोने से पहले तीन चुटकी दालचीनी और एक चम्मच शहद मिलाकर लेने से फेफड़ों को आराम मिलता है। इससे फेफड़ों से जुड़ी कई समस्याएं दूर होती है।

यह भी पढ़ें - यूरिक एसिड को करना है कंट्रोल तो मेथी दाने का करें इस तरह उपयोग।

तुलसी का करें सेवन -

अस्थमा के रोगियों को तुलसी का सेवन करना चाहिए। इसके लिए चाय में दो से तीन पत्ती तुलसी के डाल कर खूब उकालें। इससे अस्थमा अटैक की आशंका कम हो जाती है।

यह भी पढ़ें - बरसों पुराने डार्क सर्कल भी होंगे इन घरेलू उपाय से कुछ दिनों में दूर।

रोजाना खाएं दाल-

आपको बता दें कि दाल प्रोटीन का अच्छा सोर्स होता है। इसलिए आप मूंग, चना, सोयाबीन आदि दालें का सेवन करें। जो आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतर होती हैं। दाल फेफड़ों को भी मजबूत बनाती है और संक्रमण से दूर रखती है।

हरी सब्जियां खाएं-

स्वास्थ्य के लिए हरी सब्जियां बहुत फायदेमंद होती है। अगर आप के फेफड़ों में कफ जमा होता है, तो हरी सब्जियां खाएं। इससे अस्थमा अटैक की आशंका कम होती है। इम्यून सिस्टम भी बेहतर होता है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3A7qlm9

No comments

Powered by Blogger.