Header Ads

बार-बार दूध उबालते हैं, तो हो जाएं सावधान

क्या आप भी घर में दूध (Milk) को बार-बार उबालकर इस्तेमाल करते हैेेेें। दरअसल सच्चाई यह है कि दूध को बार-बार उबालने से उसके पौषक तत्व (Nutrients) नष्ट हो जाते हैं और ऐसा दूध अपेक्षित गुणकारी नहीं रह पाता। टेट्रा पैक ने रिसर्च से जुड़ी कंपनी मिलवार्ड ब्राउन के साथ मिलकर किए एक रिसर्च के मुताबिक सिर्फ 17 प्रतिशत महिलाओं को ही पता है कि दूध उबालने से पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं। इस अध्ययन के अनुसार 59 प्रतिशत मांओं को लगता है कि दूध उबालने से उसके पोषक तत्व बढ़ते हैं और 24 प्रतिशत मांओं को लगता है कि पोषक तत्वों पर कोई असर नहीं पड़ता है।

तीन बार से ज्यादा ना उबालें
ज्यादातर भारतीय मांओं को ये नहीं पता कि बार बार दूध उबालने से दूध के पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं। अगर दूध को 100 सेल्सियस पर 15 मिनट से ज्यादा उबाला जाए तो दूध के विटामिन व प्रोटीन नष्ट हो जाते है और यही प्रक्रिया ज्यादातर घरों में अपनाई जाती है। वसारहित दूध को अगर तीन बार से ज्यादा उबाला जाए तो दूध जरूरी विटामिन, प्रोटीन (protein), अमिनो एसिड (Amino Acid) और खनिज लवणों से रहित हो जाता है।'

विटामिन नष्ट होते हैं
'दूध विटामिन डी (Vitamin D) और विटामिन बी-12 (Vitamin B-12) का मुख्य स्रोत है जो कैल्शियम (Calcium) को अवशोषित (Absorb) करने में मदद करता है। ये दोनों ही विटामिन ऊष्मा के प्रति संवेदनशील होते है और दूध को उबालने पर ये नष्ट हो जाते है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3xLJIPz

No comments

Powered by Blogger.