Header Ads

Back Pain :- जेब में रखा पर्स भी हो सकता है शरीर में बैक पेन का कारण

बैक पेन के कारण लोगों का उठना-बैठना दुश्वार हो जाता है। यह ऐसा दर्द है, जो व्यक्ति को हर समय होता है। दरअसल अधिकतर लोगों को Back Pain की समस्या लगातार बैठे रहने, अधिक समय तक गाड़ी चलाने, अत्यधिक काम करने आदि से होती है। इसी के साथ यह समस्या उन लोगों में भी नजर आने लगी है। जो अपनी पेंट की जेब में मोटा पर्स रखते हैं।

यह भी पढ़ें - एक्जिमा से हो गए हैं परेशान तो अब करें यह घरेलू उपाय।

पहले निकाल दें पर्स-

दरअसल, आपके पेंट की पीछे की जेब में रखा पर्स भी आपके बैक पेन का कारण हो सकता है। इसलिए जब भी आप आपके ऑफिस या दुकान में लंबे समय तक बैठने के लिए बैठे, तो सबसे पहले अपने पीछे वाले पॉकेट से पर्स निकालकर आगे वाली जेब या कहीं सुरक्षित जगह पर रख दें।क्योंकि यही आपके बैक पेन का कारण बन सकता है।

यह भी पढ़ें - आंखे बचपन से ही ना हो जाए कमजोर, इसलिए शुरू से रखें इन बातों का ध्यान।

ऐसा पड़ता है असर-

लंबे समय तक बैठे रहने से Sciatic nerve सुकड़ जाती है। इस वजह से piriformis सिंड्रोम पेट दर्द और self-inflicted sciatica हो सकता है। क्योंकि आपका पर्स पिछली जेब में रखा होने के कारण एक लकड़ी के गुटके की तरह काम करता है। जो आपके pelvis spine और शरीर के alignment को बिगाड़ सकता है। जैसे कि आप किसी ब्रीफकेस या पत्थर पर लंबे समय तक नहीं बैठते। उसी तरह आपको अपने पर्स पर भी अधिक समय तक नहीं बैठना चाहिए। यदि आप पर्स को पीछे रखकर आधे घंटे से ज्यादा गाड़ी चलाते हैं। तो उसमें भी बैक पेन और साइटिका की समस्या हो सकती है। इसलिए सबसे अच्छा यही है कि आप अपना पर्स या तो आगे वाली जेब में रखें या फिर पीछे वाली जेब में रखना मजबूरी है। तो कम से कम बैठने से पहले उसे निकालकर आगे वाली जेब में या सुरक्षित जगह रख ले।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3vLtTqy

No comments

Powered by Blogger.