Header Ads

सर्दी जुकाम से ऐसे मिलेगा छुटकारा, बहती नाक भी होगी बंद

मौसमी बदलाव और ठंडा गरम खाने से कई बार सर्दी जुकाम की समस्या हो जाती है। यूं तो सर्दी जुकाम आसानी से दवाइयों से भी कम हो जाता है। लेकिन कई बार यह दर्द सिर को भी अपनी चपेट में ले लेता है। ऐसे में जब सर्दी जुकाम के साथ सिर दर्द भी होता है। तो व्यक्ति परेशान हो जाता है। हम आपको ऐसे कुछ घरेलू उपाय बताएंगे, जिसकी सहायता से आप जल्द ही सर्दी जुकाम की समस्या से राहत पा सकेंगे।

जुकाम के कारण होने वाली परेशानियां-

छींक आना, बुखार, आंखों में जलन, नाक बंद होना, सिर में दर्द, गले में खराश, नाक से पानी बहना, नाक में खुजली होना आदि।

वैसे तो जुकाम के सैकड़ों कारण है। लेकिन यह वायरस के संक्रमण से होता है। इसलिए इससे बचने के कुछ घरेलू उपाय किए जा सकते हैं।

काली मिर्च का उपयोग-

जुकाम से राहत पाने के लिए काली मिर्च का चूर्ण बनाएं, इस को शहद के साथ चाटने से काफी आराम मिलता है और नाक से बहने वाले पानी की समस्या भी कम होती है। इसी के साथ आधा चम्मच काली मिर्च का चूर्ण और एक चम्मच मिश्री मिलाकर करीब एक गिलास गर्म दूध के साथ दिन में करीब 2 बार पीने से काफी लाभ होगा।

हल्दी का दूध पिए-

वैसे तो हल्दी कई बीमारियों का रामबाण इलाज है।लेकिन जुकाम में भी काफी मददगार साबित होती है।करीब एक गिलास गर्म दूध में दो चम्मच हल्दी का पाउडर मिलाकर पीना चाहिए। इससे बंद नाक और गले में खराश की समस्या से भी काफी आराम मिलेगा। वह नाक से बहने वाले पानी की समस्या भी खत्म हो जाएगी।

जुकाम में तुलसी-

सर्दी जुकाम में तुलसी अमृत औषधि के रूप में काम करती है। तुलसी की करीब 5 साल पत्तियों को पीसकर काढ़ा बना लें, इस काढ़े को पिए, इससे खांसी और जुकाम में काफी आराम मिलेगा और अगर आपकी नाक बंद हो रही है तो तुलसी की मंजरीयों को रुमाल में डालकर पोटली बना लें। उसे सूंघने से नाक खुलेगी, अगर छोटे बच्चों को जुकाम है तो करीब 6 से 7 बून्द अदरक एवं तुलसी का रस शहद में मिलाकर चटाये, इससे बच्चों को काफी आराम मिलेगा।

मेथी और अलसी-

करीब 3 से 4 ग्राम मेथी और इतनी ही मात्रा में अलसी को लेकर एक गिलास पानी में काफी देर तक उबालें।जब वह अच्छी तरह उबल जाए, उसकी करीब तीन-चार बून्द दोनों नाक में डालें। इससे जुकाम में काफी आराम मिलेगा।

अजवाइन और हल्दी-

हल्दी और अजवाइन भी सर्दी जुकाम के लिए काफी मददगार साबित हुई है। करीब 10 ग्राम हल्दी और 10 ग्राम अजवाइन को एक कप पानी में डालकर उबालें ।जब पानी आधा रह जाए तब इसमें थोड़ा सा गुड़ मिलाए और इस पेय को पी लें। इससे जुकाम में तुरंत आराम मिलेगा और नाक से बहते पानी की समस्या भी काफी कम हो जाएगी।

सरसों का तेल-

अगर जुकाम की समस्या है तो सोते समय दोनों नाक में दो-दो बूंद बादाम, रोगन या सरसों का तेल डालकर सोएं। इससे नाक में किसी भी प्रकार का रोग नहीं होता है।

अदरक का उपयोग-

सर्दी जुकाम और खांसी के लिए अदरक काफी मददगार साबित होता है। अगर कफ़ युक्त खासी है, तो दूध में अदरक उबाल कर पीएं। अदरक के रस में शहद मिलाकर चाटने से भी जुकाम में आराम होता है। एक दो अदरक के छोटे टुकड़े दो काली मिर्च और चार लोंग और 5 से 7 तुलसी की ताजा पत्ती पीसकर एक गिलास पानी में उबालें। जब यह पानी उबालकर आधा गिलास रह जाए। तब इसमें एक चम्मच शहद मिलाकर पी लें। अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े को देसी घी में भूनकर दिन में तीन चार बार पीसकर खाएं। इससे भी नाक से पानी बहने की समस्या में काफी आराम मिलेगा।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/2N6wOds

No comments

Powered by Blogger.