Header Ads

गुर्दे में पथरी होने पर रोज एक चम्मच तुलसी रस लेना फायदेमंद

जिन्हें पथरी की समस्या है उन्हें रोज एक चम्मच तुलसी पत्ती का रस लेना फायदेमंद होता है। इसे शहद के साथ लेने से लाभ बढ़ जाता है और पथरी जल्दी निकलती है। तुलसी में मौजूद पोषक तत्त्व शरीर में यूरिक एसिड के स्तर को सही रखते हैं जिससे पथरी बनने की समस्या रूक जाती है। पथरी के रोगियों को खट्टे फल जैसे नींबू, संतरे और अंगूर आदि खाना चाहिए। ऑक्जलेट वाली चीजें नहीं खाना चाहिए। इनसे पथरी बनती है। पालक, टमाटर-बैंगन के बीज, चौलाई, आंवला, सोयाबीन, चीकू, कद्दू, सूखे बींस, कच्चा चावल, उड़द की दाल और चने खाने से भी बचना चाहिए।

पथरी की समस्या से छुटकारा पाने के लिए बिजौरा नींबू के पेड़ की जड़ को पीसकर रोजाना एक गिलास गुनगुने पानी में मिलाकर पीने किडनी में फंसे स्टोन्स निकल जाएंगे।

स्टोन्स से राहत दिलाने में जौ का पानी भी बहुत लाभकारी सबित होता है। इसे इस्तेमाल करने के लिए रोज रात में साफ पानी से धोकर एक मुट्ठी जौ भिगो दे। सुबह उठकर इस पानी को छान कर पी लें।ऑक्जलेट अधिक होने से कैल्शियम जमा होकर पथरी बनती है। सोडा, सॉफ्ट ड्रिंक्स, नमक, चाय-कॉफी और अल्कोहल लेने से बचें।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/2NN6pRB

No comments

Powered by Blogger.