Header Ads

चेहरे से हटाना है चश्मा और बढ़ानी है आंखों की रोशनी, तो आज से ही करें यह काम

बच्चों से लेकर बड़ों तक में आंखों की रोशनी कमजोर पड़ना आम बात होती जा रही है। आजकल छोटे छोटे बच्चों को चश्मे लगने लगे हैं। क्योंकि मायोपिया और हाइपरमेट्रोपिया के केस बढ़ते जा रहे हैं। इसी के साथ लोगों को ग्लूकोमा, केटरेक्ट, रेटिनोपैथी सहित अन्य आंखों से सम्बंधित समस्या हो रही है। तो कुछ घरेलू उपाय है। जिनकी सहायता से आप आंखों की रोशनी बढ़ा सकते हैं और चेहरे का चश्मा भी हट सकता है।

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए यह करे काम-

-आंखों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन ए आवश्यक होता है। ऐसे फल खाने चाहिए जिससे विटामिन ए भरपूर मात्रा में मिले। इसके लिए फल और सब्जियां अपने भोजन में शामिल करना चाहिए।

-शहतूत की टूटी पत्तियां और गुलाब की पत्तियों को एक गिलास में डालकर रखें। इसके बाद उस पानी से अपनी आंखों को धोए। नंगे पैर हरी घास पर चलने से भी आंखों की रोशनी तेज होती है।

-आंखों की रोशनी बढ़ानी है, तो आंवले का सेवन करना चाहिए। हर दिन एक आंवले का सेवन करते हैं तो आपको दिनों दिन अच्छे से दिखने लगेगा।

-इलायची और लौंग का मिश्रण बना कर खाना चाहिए। हो सके तो 10 ग्राम छोटी इलायची, 20 ग्राम सौंफ मिलाकर पीस लें और इस मिश्रण की एक चम्मच हर दिन दूध के साथ पी सकते हैं। ऐसा करने से आंखों की कमजोरी दूर होने लगती है।

-आंखों के चारों और अखरोट के तेल से मालिश करने से चश्मे का नंबर कम होता है। हर दिन ऐसा करने से आंखों की रोशनी बढ़ने लगती है।

-सबसे पहले अपने पैरों को धोए और साफ कपड़े से पोछने के बाद सरसों के तेल से पैर के तलवों पर मालिश करें। यह उपाय रोज सोने से पहले करने से आपकी आंखों की रोशनी बढ़ेगी।

-आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए व्यक्ति को पौष्टिक भोजन करना चाहिए। इसी के साथ बच्चों को विटामिन ए वाले आहार देना चाहिए।

-बच्चे जिस कमरे में बैठकर पढ़ते हैं। वहां रोशनी का बेहतर प्रबंध होना चाहिए। तेज रोशनी नहीं होनी चाहिए और कम रोशनी भी नहीं रहनी चाहिए। साथ ही साल में एक बार बच्चों की आंखों का चेकअप भी कराना चाहिए। वैसे तो यह घरेलू उपाय हैं। इनसे आंखों की रोशनी बढ़ती है। लेकिन अगर आप आंखों से संबंधित समस्या तो अच्छे चिकित्सक को जरूर दिखाएं।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3bSHYuK

No comments

Powered by Blogger.