Header Ads

कोरोना संक्रमित महिलाओं को हार्ट अटैक से मरने का खतरा पुरुषों से 9 गुना होता है ज्यादा, हुआ खुलासा

नई दिल्ली। कोरोनावायरस (coronavirus)पर जितना रिसर्च हो रहा है उतनी नई बातें सामने आ रही हैं। कोरोना से होने वाली मौतों को लेकर एक नई और खतरनाक जानकारी सामने आई है। रिसर्च की माने तो जो मरीज कोरोना संक्रमित हो चुके हैं, उन्हें दिल के दौरे से मौत की आशंका ज्यादा बढ़ जाती है। यह रिसर्च किया है स्वीडन के वैज्ञानिक ने रिसर्च में जो सबसे चिंताजनक बात सामने आई है वह है महिलाओं को लेकर । रिसर्च की माने तो यदि कोई महिला कोरोना संक्रमित होती है तो उसे अस्पताल में इलाज के दौरान या रिकवरी के बाद भी हार्ट अटैक की आशंका काफी बढ़ जाती है, और इसकी वजह से मौत की भी आशंका बढ़ जाती है।

स्वीडन के वैज्ञानिक की रिसर्च जिसमें यह कहा गया है कि कोरोना संक्रमित महिलाओं को दिल के दौरे से मरने की आशंका पुरुषों की तुलना में नौगुना ज्यादा हो जाती है, यह रिपोर्ट यूरोपियन हार्ट जर्नल में प्रकाशित हुई है। यह रिसर्च 1946 कोरोना मरीजों की जांच पर आधारित है जिनकी रिकवरी के बाद अस्पताल के बाहर दिल के दौरे से मौत हुई। इस रिसर्च में 1080 कोरोना मरीजों की इलाज के दौरान अस्पताल में दिल के दौरे से मौ हुई थी। यह रिसर्च पिछले साल 1 जनवरी से जुलाई के बीच की गई थी।

आपको बतादें यह रिसर्च यूनिवर्सिटी ऑफ गोथेनबर्ग के पीएचडी स्कॉलर और उनकी टीम के सदस्य पेद्राम सुल्तानियन ने किया था जिनका कहना है कि “हमारी स्टडी स्पष्ट तौर पर यह बताती है कि कोरोना वायरस का संक्रमण और दिल का दौरा बेहद घातक है। कोरोना संक्रमित दिल के मरीजों का खास ख्याल रखने की जरूरत है। ऐसे मरीजों के लिए हमेशा ऐसे प्रयास करने होंगे जिससे उन्हें दिल का दौरा ना पड़े“

आपको बतादें इन्हीं शोध कर्ताओं ने महामारी से पहले हार्ट की बीमारी से पीड़ित मरीजों की कोरोना संक्रमण के बाद मरीजों से तुलना की तो नतीजे हैरान करने वाले देखने को मिले। रिसर्च में यह बात सामने आई कि कोरोना संक्रमित हार्ट की बीमारी से पीड़ित मरीजों के मौत के आंकड़े में तीन गुना बढ़ोतरी देखने को मिली। एक बात और जो गौर करने वाली देखने को मिली कि कोरोना संक्रमित पुरुषों की हार्ट अटैक से मरने की संख्या 4.5 गुना ज्यादा रही जबकि महिलाओं में 9 गुना ज्यादा देखने को मिली।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3cLpRbR

No comments

Powered by Blogger.