Header Ads

Health Flash Back 2020 - बीते दशक में सेहत के मामले में कुछ खोया कुछ पाया

आने वाले नए साल में साल के साथ ही दशक भी बदल रहा है, हम 2021 में प्रवेश कर रहे हैं। भारत में बीते दशकों में सेहत के क्षेत्र में कई घटनाएं घटीं, देश को पोलियो मुक्त घोषित किया गया । जानते हैं ऐसे ही कुछ घटनाक्रमों के बारे में ।

तारीख - 30 . 10 . 2015 को पोलियोमुक्त हुआ भारत-
साल 2015 में भारत पोलियो मुक्त घोषित हुआ। लेकिन इस दर्जे को बनाए रखने के लिए 30 अक्टूबर 2015 को आइपीवी की शुरुआत की गई।

तारीख 30 . 01 . 2020 -
केरल में कोरोना का पहला मरीज इस तारीख को मिला। भारत में इस वर्ष जनवरी में कोरोना का पहला केस केरल में मिला था। जब चीन के वुहान से लौटा छात्र पॉजिटिव मिला था।

बीता दशक भारत में -
हादसों से स्वास्थ्य सेवाओं पर सवाल खड़े हुए, चिकित्सा के क्षेत्र में कुछ सुधारों के बावजूद लापरवाही से कई हादसे हुए।

तारीख 10 . 08 . 2017 -
गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से 70 मासूमों की जान चली गई। व्यवस्था पर सवाल खड़े हुए।

तारीख 24. 08 . 2017 -
देश में स्वाइन फ्लू से 1049 लोगों की जान जा चुकी है। गौरतलब है कि स्वाइन फ्लू भी चीन से ही दुनिया में फैला।

तारीख 09. 12 . 2020 -
आंध्र प्रदेश में रहस्यमय बीमारी से 500 से ज्यादा बीमार हो गए। डॉक्टरों की जांच में खून में लेड और निकल मिला।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/34j9L4a

No comments

Powered by Blogger.