Header Ads

बीते समय को भूलो, वर्तमान देगा सेहत

स्वस्थ रहने के लिए जरूरी है कि व्यक्ति गुजरे जमाने की चिंता करने की बजाय मौजूदा समय का खयाल रखे। पुराने खयालों में खोए रहेंगे तो चिंता (Anxiety) और अवसाद (Depression) आपको घेर लेंगे। इसलिए वर्तमान (present) को सुधारने की कोशिश करें और सेहत अच्छी बनाएं।

मजे से गुजारो वर्तमान
दुनिया में ज्यादातर लोग अपने पुराने समय को याद कर-करके दुखी होते रहते हैं। उनके खयालों में बस यही रहता है कि मैं ऐसा करता तो आज ऐसा होता... इस तरह की सोच से इंसान को कुछ हासिल नहीं हो पाता। जो समय गुजर गया है, उसका दुख मनाने से आपकी सेहत बिगड़ती है और मानसिक व शारीरिक गड़बडिय़ां पैदा होने लगती हैं। अगर इंसान सिर्फ पुराने समय के बारे में विचार करता रहेगा तो वह आज के बारे में तो सोच ही नहीं पाएगा।

अतीत देता है सबक
क्या हुआ अगर आप अपने अतीत में कोई अच्छा फैसला नहीं कर पाए या कोई लक्ष्य हासिल नहीं कर पाए। अभी भी आपके पास समय है। अगर आप मौजूदा समय का सही तरह से इस्तेमाल करेंगे तो खुशियां लौट आएंगी और सेहत पर भी अच्छा असर पड़ेगा। यह आपके ऊपर है कि आप जीवन को किस तरह से बनाना चाहते हैं। अगर आप अतीत के दुखों को ओढ़े रहेंगे तो सेहत बिगड़ जाएगी और कई बीमारियां आपको घेर लेंगी। तब आपका वर्तमान भी बिगड़ जाएगा।

सेहत के प्रति रहें सतर्क
अच्छे स्वास्थ्य (health) के लिए आपको प्रण लेना होगा कि आप अपने अतीत को लेकर कभी दुखी नहीं होंगे। वर्तमान समय का सही तरह उपयोग करेंगे और सेहत के प्रति पूरी तरह जागरूक रहेंगे। जो इंसान अपनी सेहत को लेकर सतर्क रहता है, वह मौजूदा समय का भी सर्वश्रेष्ठ इस्तेमाल कर पाता है। वर्तमान में ही जीवन की सारी खुशियां छुपी रहती हैं। इस तरह आपकी सेहत भी अच्छी रहेगी और जीवन भी अच्छे से गुजरेगा।

जब कभी आपको पुराने समय की यादें परेशान करें और आप खुद को डिप्रेशन में पाएं तो मन को खुश रखने का प्रयास करें। संगीत सुन सकते हैं या नृत्य कर सकते हैं। इनसे मिलने वाली खुशियां आपको अतीत की बजाय वर्तमान में लौटने पर मजबूर कर देंगी और आपका स्वास्थ्य अच्छा बना रहेगा।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/37G2LRf

No comments

Powered by Blogger.