Header Ads

हेल्थ केयर वर्कर्स को सबसे पहले दिया जाएगा कोरोना वैक्सीन

न्यूयॉर्क । अमेरिका के एक उच्च स्तरीय सरकारी पैनल ने मंगलवार को घोषणा की है कि सबसे पहले कोविड-19 वैक्सीन हेल्थ केयर वर्कर्स और नसिर्ंग होम में रह रहे मरीजों को दिए जाएंगे।
सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) पैनल ने 13-1 से वोट करके यह सिफारिश की है शुरूआती हफ्तों में जब वैक्सीन के कम डोज उपलब्ध रहेंगे, तब इन दोनों समूहों का प्राथमिकता पर वैक्सीनेशन किया जाना चाहिए।

सीडीसी विशेषज्ञों ने कहा कि अमेरिका में 40 प्रतिशत मौतें लंबे समय तक देखभाल करने वाली फैसिलिटी जैसे नसिर्ंग होम में हुईं हैं, इसीलिए उन्हें पहले वैक्सीन देने की सिफारिश की गई है। हालांकि फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने अब तक फाइजर या मॉर्डना वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग को अधिकृत नहीं किया है। यह निर्णय 10-17 दिसंबर के बीच लिए जाने की संभावना है। अध्ययन में इन दोनों वैक्सीन ने बड़े पैमाने पर 90 प्रतिशत से अधिक प्रभावशीलता दिखाई है। सीएनएन ने ऑपरेशन वार स्पीड के दस्तावेजों के हवाले से कहा है कि फाइजर के वैक्सीन के पहले शिपमेंट को 2 सप्ताह के भीतर राज्यों में पहुंचाने की तैयारी है।

हेल्थ केयर वर्कर्स और नसिर्ंग होम में रहने वाले लोगों की अमेरिका में आबादी करीब ढाई करोड़ से कुछ कम है, जबकि अमेरिका की कुल आबीदी 33 करोड़ है। वहीं फाइजर और मॉर्डना से वैक्सीन के कुल 4 करोड़ डोज 2020 के अंत तक उपलब्ध होने की उम्मीद है। बता दें कि कोरोनावायरस के कारण अब तक 2.7 लाख अमेरिकियों की मौत हो चुकी है और 1.3 करोड़ संक्रमित हो चुके हैं।
आईएएनएस-



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/37weh0f

No comments

Powered by Blogger.