Header Ads

घट रहा है वजन तो सावधान, कहीं ये बीमारियां वजह तो नहीं

हॉर्मोनल इंबैलेंस बड़ा कारण
वजन कम होने का पहला कारण हॉर्मोनल इंबैलेंस भी होता है। इस वजह वजन स्थिर रहता है। हाइपो थॉयराइडजम जिसमें वजन तेजी से बढ़ता है और व्यक्ति कम समय में अधिक मोटा दिखने लगता है। हाइपर थॉयराइडजम में व्यक्ति का वजन तेजी से घटता है और वे बहुत अधिक दुबला-पतला दिखने लगता है। इसका कारण उसका मेटाबॉलिज्म रेट बहुत अधिक बढ़ जाना होता है जिससे वे बहुत अधिक खाना खाने लगता है। इसके अलावा कुपोषण एक सामान्य समस्या है जिसकी वजह से वजन कम होने की तकलीफ रहती है।
इरिटेबेल बाउल सिंड्रोम
इरिटेबल बाउल सिंड्रोम बीमारी की वजह से आंतें खाना नहीं पचा पाती हैं जिस वजह से शरीर को पोषक तत्व नहीं मिल पाते और शरीर कमजोर दिखने लगता है। नींद न लगना या आधी अधूरी नींद लेने के साथ तनाव में रहने से भी भूख नहीं लगती है और वजन कम रहता है। ऐसे में इससे निजात पाने के लिए जीवनशैली में सुधार करना होता है।

लिवर का मजबूत होना जरूरी
लिवर मानव शरीर का फैक्ट्री है जो सभी अंगों को पोषक तत्व पहुंचाने का काम करता है। ऐसे में लिवर में किसी तरह की तकलीफ है तो उसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें लापरवाही बरतने से वजन कम होने या स्थिर रहने की समस्या हो सकती है। पाचन संबंधी कोई तकलीफ, भूख न लगना, गैस बनने की समस्या लगातार चल रही है तो डॉक्टर को दिखा जल्द से जल्द उसका निदान कराना चाहिए।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/2Fa5iXO

No comments

Powered by Blogger.