Header Ads

ऑस्टियो आर्थराइटिस से पीड़ित हैं तो जान लें ये खास बातें

व्यायाम ना करने, पैदल चलने की बजाय गाड़ी चलाने, एयरकंडीशन व कूलर की हवा के संपर्क में ज्यादा रहने से कम उम्र में ही महिलाओं में ऑस्टियो आर्थराइटिस की समस्या बढ़ गई है। गलत खानपान, एक्टिविटी लेवल कम होना, मोटापा और थायरॉइड भी इसका कारण हैं।

लक्षण : घुटने में दर्द, अकडऩ, सूजन और घुटनों में पानी भर जाना।
इलाज: इस बीमारी में नोजोड ऑस्टियो अर्थराइटिस दवा रोजाना तीन बार 30 की पोटेंसी में लेनी होती है। जोड़ों के दर्द को कम करने के लिए रसटॉक्स दिन में 2 बार 30 की पोटेंसी और ब्रायोनिया दिन में दो बार 30 की पोटेंसी में दी जाती है।

होम्योपैथी-
पैर और घुटनों के व्यायाम करने से दर्द में राहत मिलती है।
ज्यादा से ज्यादा बींस, हरी सब्जियां और अंकुरित अनाज खाएं। हल्दी वाला दूध, केला, आंवला और पपीता दर्द में राहत देता है लेकिन दही, छाछ ना लें। ऐसे में चलना-फिरना ना छोड़ें लेकिन दौड़- भाग से बचें।

(नोट: दवाएं खुद ट्राई ना करें, डॉक्टर की सलाह पर ही लें)



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/2PnyfS3

No comments

Powered by Blogger.