Header Ads

भूख न लगे तो करौंदे, मूली, धनिया, अजवाइन डाइट में लें

कब्ज, पेट में संक्रमण, भोजन संबंधी विकार, कुछ बीमारियां जैसे निमोनिया, हेपेटाइटिस, एचआईवी/एड्स, इन्फ्लूएंजा, किडनी के रोग, कोलाइटिस, कोलन कैंसर, इरिटेबल बाउल सिंड्रोम और सीलिएक डिजीज आदि, गलत और असमय भोजन करना और कई बार साइकोलॉजिकल कारणों से भी भूख नहीं लगती या कम लगती है। इसके लक्षणों में खाने की इच्छा न करना, अचानक से वजन घटना और कमजोरी आना है। खाने का नाम सुनते ही जी मिचलाने लग सकता है या फिर खाना खाने के बाद उल्टी भी आ सकती है।
ऐसे बढ़ाएं भूख
दिनचर्या अच्छी रखें। रोज व्यायाम करें। समय पर डाइट लें। नशा न करें। खाने को अच्छे से परोसे ताकि देखने कर खाने की इच्छा हो। करौंदे का रस, मूली, हरा धनिया, अजवाइन और काला नमक, इलायची, इमली को डाइट में शामिल करें। इनसे भूख बढ़ती है। मानसिक रूप से भूख बढ़ाने के लिए रोज प्राणायाम करें। अगर फिर भी कोई राहत नहीं मिलती है तो अपने डॉक्टर को दिखाकर जांचें कराएं। कई बार कुछ बीमारियों के कारण भी भूख नहीं लगती है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3ja6Zn9

No comments

Powered by Blogger.